दुकानदारों के सपनों पर फिरा पानी #KotaNews #MPNews #Top10News

News Bulletin 10 08 2021 श्रीधाम समीपवर्ती ग्राम पिपरिया लाठगांव मे नहर के पास स्थित खेत में खून से लथपथ युवक की लाश मिलने से संपूर्ण ग्राम में सनसनी फैल गई जानकारी मिलते ही पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच पड़ताल किए जाने के उपरांत टीआई अखिलेश मिश्रा ने बतायाकि पिपरिया ग्राम के निवासी थम्मनपटेल भूपेंद्र पटेल एवं नरेशपटेल ने किसी अज्ञात रंजिश के चलते धारदार हथियारों से ग्राम के ही निवासी गौरीशंकर पटेल जो अपने खेत से चारा काट कर साइकिल पर घर ले जा रहा था तभी आरोपियों ने गौरीशंकर पटेल को रोककर धारदार हथियारों से सिर हाथ पैर पर घातक चोट पहुंचाकर लहूलुहान कर निर्मम हत्या कर घटनास्थल से फरार हो गए जांच पड़ताल उपरांत मृतक के शरीर को पोस्टमार्टम हेतु शासकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोटेगांव पहुंचाये जाने के उपरांत मृतक के भाई की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 302 34 आईपीसी के तहत हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी गोबरिया बावड़ी चौराहे पर गत कई सालों से किराए की दुकान लेकर दुकान चला रहे किराएदार दुकानदारों को रोड चौड़ा करने के कारण यूआईटी द्वारा विगत 30 मई को पुनर्वास दायरे के अंतर्गत विश्वकर्मा नगर में आवंटन पत्र जारी किए गए थे और दुकानदार किराएदार को 3 दिन में दुकान खाली करने के निर्देश दिए गए थे सभी अट्ठारह दुकानदारों ने दुकान खाली कर दी और नई दुकान में अपना व्यवसाय शुरू करने का इन्तजार कर रहे थे किन्तु करीब ढाई माह बीत जाने के बाद इन्हें बताया गया कि यूआईटी द्वारा इनको दी गई दुकानों का आवंटन निरस्त कर दिया गया है इस संबंध में दुकानदारों ने रोष प्रकट करते हुए कहा कि अब हमारे सामने आजीविका का प्रश्न खड़ा हो गया है यूआईटी द्वारा हमें भ्रमित कर दुकाने खाली करवा दी थी आज हम सड़कों पर आ चुके हैं सरकार इस संबंध में तुरंत निर्णय लेकर हमें दुकानें आवंटित करे कोटा शहर में बदमाशों के हौसले बुलंद है। बदमाश पॉश इलाके में वारदात को अंजाम देकर आसानी से फरार हो रहे है। ताजा मामला जवाहर नगर थाना क्षेत्र का है। जहां निजी हॉस्पिटल से लौट रही महिला के साथ चेन स्नेचिंग की घटना हुई है। बाइक सवार दो बदमाश राह चलती महिला के गले से सोने की चेन तोड़कर फरार हो गए। बदमाशों की करतूत वहां लगे CCTV कैमरे में कैद हो गई। पीड़ित महिला ने थाने में शिकायत दी है। पुलिस आसपास के CCTV फुटेज खंगाल रही है कोटा के दादाबाड़ी थाना इलाके से एक परिवार ने अपनी बालिका को चेचट ले जाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाते हुए, इस संबंध में एक लड़के के खिलाफ शिकायत दी है. जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. हालांकि इस संबंध में आज परिजनों ने थाने के बाहर काफी हंगामा किया. सैकड़ों की संख्या में लोग एकत्रित हो गए थे. जिनमें क्षेत्रीय पार्षद भी शामिल थे. इन लोगों का कहना है कि बालिका को धमका कर आरोपी चेचट ले गया था. जहां पर उसके साथ दुष्कर्म किया. . बालिका परिजनों को नशे की हालत में मिली थी. जबकि वह बदहवास थी, कुछ बताने की स्थिति में नहीं थी. वही आरोपी के भी नाबालिग होने की संभावना है. ऐसे में पुलिस का कहना है कि वह पहले आरोपी के डाक्यूमेंट्स की जांच करेगी और उसके अनुसार ही इस मामले में आगे कार्रवाई की जाएगी. पीड़िता का मेडिकल करवा दिया है। साथ ही उसके बयान भी पंजीबद्ध किए गए हैं। कोटा नगर निगम के वार्ड नंबर 7 व 29 में नगर विकास न्यास व नगर निगम द्वारा विकास कार्यों में भेदभाव का आरोप लगाते हुए दोनों वार्डो के पार्षदों ने स्थानीय लोगों के साथ जिला कलेक्ट्री पर प्रदर्शन करके मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा, वार्ड नंबर 29 के पार्षद धनराज गुर्जर ने कहा कि उन के क्षेत्र को नगर निगम क्षेत्र में आये हुए काफी समय हो गया, लेकिन आज तक मूलभूत सुविधाओं के लिए वहां की जनता परेशान है,,, पार्षद का कहना है कि क्षेत्र में लगभग 80 से 90 हाजर की आबादी निवास करती है। लेकिन क्षेत्र का आज तक कोई विकास नहीं हो पाया, लोगों को पीने का पानी लेने के लिए लगभग 2 से 3 किलोमीटर दूर जाना पड़ता है क्षेत्र में नाली पटान के नाम पर मात्र खानापूर्ति है पार्षद का आरोप है कि विकास को लेकर जबकि अधिकारियों से बात की जाती है वह टालमटोल जवाब देते है कोटा उत्तर पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल ने इटावा क्षेत्र के बोरदा गांव में पहुँचकर बाढ़ पीड़ितों के हाल जाने व संकट की इस घडी में उनके सहयोग करने का पूरा भरोसा दिलाया । उन्होंने बोरदा गांव में बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुए मकानों को देखा व वहां मौजूद लोगों से उनका दुख दर्द सुना ।इस दौरान उन्होंने कोटा जिला कलेक्टर से क्षेत्र के लोगों की समस्याओं से अवगत कराया व बताया कि बाढ़ ने लोगों का सब कुछ छीन लिया है लोगों के पास न रहने की छत है न खाने को अनाज लोग जैसे तैसे करके ग्रामवासियों के सहयोग से अपना पेट भर रहे है इनको जल्द से जल्द राहत पहुँचाई जाए ताकि यह अपना जीवन अच्छे से यापन कर सके ।लोगों ने गुंजल को बताया कि क्षेत्र में 100 फीसदी फसले बर्बाद हो गई है इनका भी जल्द से जल्द मुवावजा दिलाया जाए। छीपाबड़ौद क्षेत्र में भारतीय किसान संघ राजस्थान प्रदेश के कार्यकारिणी सदस्यों ने बारिश के कारण फसल खराबा, मकान व मवेशी का मुआवजा दिलवाने के साथ ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ दिलाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार के नाम छिपाबड़ोद तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा, ज्ञापन में बताया कि अतिवृष्टि से फसलों को काफी नुकसान हुआ है जिसका सरकार द्वारा सर्वे करवाकर उचित मुआवजा दिलाया जाए