बिना टिकट पकड़े गए 17 हजार , 1 करोड़ 6 लाख 78 हजार रूपए जुर्माना वसूला

कोटा मंडल की कार्यवाही बिना टिकट यात्रा करने वालों पर पैनी नजर

बिना टिकट पकड़े गए 17 हजार , 1 करोड़ 6 लाख 78 हजार रूपए जुर्माना वसूला
बिना टिकट पकड़े गए 17 हजार , 1 करोड़ 6 लाख 78 हजार रूपए जुर्माना वसूला

अप्रैल के महीने में कोटा मंडल ने बिना टिकट 17 हजार मामले पकड़े 1 करोड़ 6 लाख 78 हजार रूपए जुर्माना वसूला


कोटा     कोविड 19 के  इस वैश्विक आपदा के दौर में भी कोटा मंडल का टिकट चेकिंग स्टाफ अपनी ड्यूटी पूरी मुस्तैदी के साथ कर रहा है ।  रेल प्रशासन द्वारा इस समय पूर्णतः आरक्षित गाड़ियां चलाई जा रही हैं और संक्रमण की रोकथाम के सभी उपाय किए जा रहे हैं ।  किसी भी यात्री को बिना टिकट या प्रतीक्षा सूची का टिकट लेकर रेलवे में सफर करने की अनुमति नहीं है ।  इसके बावजूद यदि कोई इस तरह सफर करते हुए पाए जाते हैं तो टिकट चेकिंग स्टाफ की पैनी नजर से बच नहीं पा रहे ।  

इसी के परिणाम स्वरूप अप्रैल माह में कोटा मंडल टिकट चेकिंग स्टाफ ने चलती रेल गाड़ियों में तथा प्लेटफार्म पर बिना टिकट, अनियमित यात्रा या सामान बुक किए बिना ट्रेन में सफर करने के कुल 17 हजार मामले पकड़े और उनसे 1 करोड़ 6 लाख 78 हजार 320 रूपए जुर्माना वसूला । 

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक  अजय कुमार पाल ने बताया कि कोटा मंडल के नागदा-कोटा, कोटा-मथुरा, कोटा-रुठियाई तथा कोटा-चित्तौड़गढ़ रेलखंडों में टिकट चेकिंग स्टाफ द्वारा निरंतर टिकट जांच की जा रही है ।  इसी के परिणाम स्वरूप माह अप्रैल 2021 में बिना टिकट 16950 मामले पकड़े गए और उनसे एक करोड़ 6 लाख 14 हजार 600 जुर्माना वसूला गया  ।  इसके अलावा अनियमित यात्रा करते हुए कुल 23 मामले पकड़े गए और उनसे 1140 रुपए जुर्माना वसूला गया। साथ ही बिना बुक किए सामान का परिवहन करते हुए भी कुल 35 मामले पकड़े गए हैं और उनसे 62580 जुर्माना वसूला गया। 

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए यात्रियों से अनुरोध है कि कृपया आरक्षित टिकट लेकर ही ट्रेनों में सफर करें ।  रेल सफर के दौरान सामाजिक दूरी का पालन करें और रेल परिसर में या चलती हुई रेलगाड़ियों में सफर के दौरान भी मास्क जरूर पहनें यदि कोई व्यक्ति बिना मास्क पाया जाएगा तो उस पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी ।